Home | Media | Water Harvesting | बलराम ताल, खेती की जान

बलराम ताल, खेती की जान

This text will be replaced
6843 views
Created on 19 May 2013
1820 likes

Description

बात चाहे देश की राजधानी दिल्ली की हो या सुदूर इलाकों के गाँवों की-हर जगह पानी की किल्लत पिछले वर्षो के मुकाबले अधिक नजर आ रही है। यह घोर निराशाजनक है कि आज़ादी के साठ वर्षों के बाद भी देश की एक तिहाई जनता को पीने व खेती के लिए साफ पानी मुहैया नहीं है। मध्य प्रदेश के कई इलाकों में भी पानी की ज़बरदस्त संकट है। इस खतरनाक संकट को देखते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने प्रदेश में सतही और भूमिगत जल की उपलब्धता को बढ़ाने और किसानों के खेतों में सिंचाई की पूर्ति करने के लिए बलराम ताल योजना संचालित की है। योजना में सामान्य किसानों को लागत का 40 प्रतिशत, लघु-सीमांत किसानों को 50 प्रतिशत अधिकतम राशि 80 हजार और अनुसूचित जाति, जनजाति के किसानों को लागत का 75 प्रतिशत या अधिकतम राशि 1 लाख रुपये अनुदान के रूप में दी जाने की घोषणा की है।

‘Balram Talabs’ are larger water tanks, which can irrigate up to 50 hectare area. The objective of the Balram Talab Scheme (in Madhya Pradesh, India) is to conserve rainwater in the field for irrigation. For digging ponds under Balram Tal Yojana, every beneficiary is given 25 per cent subsidy, the upper limit of which is Rs 50 thousand. The benefit of the scheme is given to the applicants registered after May 25, 2007. So far 7,158 Balram Tal reservoirs have been constructed in the provinc

More info: http://www.mpinfo.org/mpinfonew/english/mp_schemes/index.asp
Produced by: Government of Madhya Pradesh province, India 
Year: 2013
Language: Hindi
Region: India

Tags

Associations

Facebook comments

Add comment


Security code
Refresh

Back to Top